Uncategorizedदिल्ली एनसीआरराज्यहरियाणा

ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में महिलाएं भी पहुंची धरने पर, जताया रोष.

हिसार-बरवाला एयरपोर्ट रोड को बंद करने का विरोध

आज एयरपोर्ट चौक पर बरवाला रोड बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले ग्राम पंचायत तलवंडी राणा व आसपास के गांव जुगलान, बीड़ बबरान, धिकताना, बहबलपुर, बाडो पट्टी, सुलखनी, बुगाना, राजली, घिराय, सरसौद, बिचपड़ी, बरवाला, उकलाना, मिलगेट, धांसू सहित अनेक गांव व शहरों के लोग एयरपोर्ट चौक पर हजारों की संख्या में एकत्रित हुए। ग्रामीण सुबह 9 बजे ही एकत्रित होना शुरू हो गए थे। विशेष बात यह रही कि आस-पास के गांवों से ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में महिलाएं भी भारी संख्या में धरने पर पहुंची।

धरने को संबोधित करते हुए समिति के अध्यक्ष एडवोकेट ओमप्रकाश कोहली ने कहा कि सरकार का रवैया पूरी तरह से भेदभावपूर्ण है। सरकार व प्रशासन हमारे खिलाफ भेदभव कर गांव के हितों और हमारे विकास के साथ खिलवाड़ कर रही है। कोहली ने सरकार व प्रशासन को चेताते हुए आक्रामक तेवर में कहा कि सरकार हमारे धैर्य और सब्र का इम्तिहान न लें। संघर्ष समिति का धरना, धरना न रहकर अब यह एक जन आंदोलन बन चुका है। इस अवसर पर जनसमूह को संबोधित करते हुए जिला परिषद के पूर्व चेयरमैन डॉ. राजेंद्र सूरा से सरकार को निकम्मी और नकारा करार दिया।

इस तरह टला टकराव

एडवोकेट ओपी. कोहली ने बरवाला के विधायक जोगीराम सिहाग से फोन पर बात की। विधायक जोगीराम धरना स्थल पर एयरपोर्ट चौक पर पहुंचे। जब विधायक जोगीराम सिहाग धरने पर पहुंचे तब ग्रामीण व प्रशासन टकराव की स्थिति में थे तब विधायक ने उपायुक्त से बात की और कहा कि जब तक सरकार ग्रामीणों को नया रोड बनाकर नहीं देती है तब तक इस रोड को बंद न किया जाए। इसके अलावा आज गांव तलवंडी राणा के सभी किसान, मजदूर, दुकानदार, दूध डेयरी, लघु उद्योग, व्यापार मंडल युवा क्लब, युवा शक्ति तलवंडी राणा, युवा व्यापार मंडल, तलवंडी राणा सभी ने रोष स्वरूप पूर्ण रूप से अपना कामकाज बंद रखा। विशेष बात यह रही कि आज तलवंडी राणा के बस स्टैंड सहित पूरे गांव की गलियां सुनसान रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button