उत्तर प्रदेशदिल्ली एनसीआरदेश-दुनियाराज्य

आखिर ये कैसी तालीम, मदरसे में बच्चों को जंजीर से बांधा, जानवरों से भी बदतर सलूक

मौलाना ने कथित तौर पर दो लड़कों के पैरों को जंजीरों में बांध दिया ताकि उन्हें भागने से रोका जा सके

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में एक मदरसे के मौलाना ने कथित तौर पर दो लड़कों के पैरों को जंजीरों में बांध दिया ताकि उन्हें भागने से रोका जा सके। मामला तब सामने आया जब एक स्थानीय ने वीडियो बनाकर पुलिस को भेजा, जो मौके पर पहुंची और आरोपी को हिरासत में लेने से पहले बच्चों को मुक्त कराया।

लखनऊ : उत्तर प्रदेश से एक अजीब घटना सामने आयी हैं। जहां माता-पिता ने अपने ही बच्चों को मौलाना के हवाले कर दिया और टॉर्चर करने के लिए कहा क्योंकि बच्चे बढ़ाई में कमजोर थे और खेलते ज्यादा था। मदरसे में मौलाना बच्चों के पैरों को जंजीरों से बांधकर उन्हें कैद रखता था। यह सिलसिला काफी समय से चल रहा था लेकिन एक दिन पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति को बच्चों की इस दशा पर दया आयी और उसने वीडियो बनाकर पुलिस में दे दी।

यह है पूरा मामला 

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में एक मदरसे के मौलाना ने कथित तौर पर दो लड़कों के पैरों को जंजीरों में बांध दिया ताकि उन्हें भागने से रोका जा सके। मामला तब सामने आया जब एक स्थानीय ने वीडियो बनाकर पुलिस को भेजा, जो मौके पर पहुंची और आरोपी को हिरासत में लेने से पहले बच्चों को मुक्त कराया।

इस बीच, लड़कों के माता-पिता ने एक लिखित आवेदन दायर कर कहा है कि वे नहीं चाहते कि मौलाना के खिलाफ कोई कानूनी कार्रवाई की जाए। पुलिस के अनुसार, माता-पिता ने कहा कि उन्होंने मौलाना को बच्चों के साथ सख्त रहने के लिए कहा क्योंकि उन्होंने अतीत में कई बार अपनी पढ़ाई से बचने के लिए भागने का प्रयास किया था।

बच्चों ने कहा कि उन्होंने भागने की कोशिश की क्योंकि वे पढ़ना नहीं चाहते थे। लड़कों में से एक ने कहा कि वह पढ़ाई से बचने के लिए शौचालय में भी छिप गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button